Principal/School Head Message

वीरता ,पराक्रम के साथ ही राष्ट्र प्रेम , संस्कृति , स्वामी भक्ति एवं गौ रक्षा के लिए प्राणों का उत्सर्ग करने हेतु ,तत्पर रहने वाले शूरवीरों की संस्कृति का  प्रतिनिधित्व करने वाली इस राजस्थान की धरती के केवल पुरुष ही नहीं, बल्कि बच्चे व औरतें तथा उससे भी बढ़कर पशु भी अपने वीरोचित्त एवं लोमहर्षक कर्मों से दांतो तले अंगुलियां दबाने को मजबूर कर देते हैं |
इसी राजस्थान के पश्चिमी सीमा पर स्थित बाड़मेर जिले कि शिव तहसील के भिंयाड़ गांव में मातेश्वरी शिक्षण संस्थान भिंयाड़ द्वारा संचालित मातेश्वरी विद्या मंदिर उच्च माध्यमिक विद्यालय भिंयाड़ के प्रांगण में आज विद्यालय की 15वीं वर्षगांठ ,वार्षिकोत्सव , व कक्षा 12 के विद्यार्थियों के विदाई समारोह पर आप सब का हार्दिक स्वागत एवं अभिनंदन है | 
इस विद्यालय की स्थापना मां मातेश्वरी के नाम से 16 जून 2003 को 40 विद्यार्थियों के साथ की गई | 
आज इस अवसर पर मैं उन तमाम महानुभावों के प्रत्यक्ष व अप्रत्यक्ष कर्मयोग की वंदना करता हूं ,जिनके कारण आज हम यहां प्रत्यक्ष रूप से सहभागी हुए हैं | 
स्थानीय शिक्षा प्रेमी , प्रबुद्ध अभिभावकगण के सहयोग से विद्यार्थियों की संख्या में निरंतर वृद्धि हो रही है | 
प्रारंभ से वर्तमान तक के इस दीर्घकाल में संस्थान में आर्थिक अभाव के कई अवसर आए , किंतु मां मातेश्वरी की कृपा आप भामाशाह के पूर्ण सहयोग से आज यह संस्थान अपने लक्ष्य की ओर अग्रसर है | 
वर्तमान समय में विद्यालय में 1150 विद्यार्थी अध्यनरत है , वर्तमान में एक प्रधानाचार्य,  एक व्यवस्थापक,  22 वरिष्ठ शिक्षक, 5 सहायक शिक्षक, एक कंप्यूटर शिक्षक,  एक शारीरिक शिक्षक द्वारा शिक्षक के रूप में सौंपे गए दायित्वों का निर्वहन करते हुए सदाचरण , आत्म अनुशासन के साथ विद्यार्थियों की नींव को मजबूत करने में सतत् कर्मशील है  |
 विद्यार्थियों की सुविधा अनुसार तय दूरी पर विद्यालय की 6 स्कूल बस का संचालन किया जा रहा है | 
मातेश्वरी शिक्षण संस्थान भिंयाड़ द्वारा संचालित मातेश्वरी गुरुकुल छात्रावास इसी विद्यालय का एक भाग है , जिसमें 50 विद्यार्थी अध्ययनरत है | 
परीक्षा परिणाम विद्यालय का आईना होता है , सत्र 2017-18 में 12वीं बोर्ड परीक्षा में कुल 27 विद्यार्थी बैठे,  जिसमें से 10 प्रथम श्रेणी , 13 द्वितीय श्रेणी, एक तृतीय श्रेणी और एक अनुत्तीर्ण रहा|सत्र 2017-18 की दसवीं बोर्ड परीक्षा में कुल 61 विद्यार्थी बैठे | जिसमें से प्रथम श्रेणी 10 द्वितीय श्रेणी 20,  तृतीय श्रेणी 25 व 3 अनुत्तीर्ण रहे | 
बहन मायावती चारण ने दसवीं बोर्ड परीक्षा में 94.3 3% अंकों के साथ पद्माक्षी पुरस्कार  प्राप्त करते हुए विद्यालय व परिवार का नाम रोशन किया | 
इसी क्रम में छात्र महिपाल दान आरंग में 93.50 प्रतिशत अंक ,
छात्र गणेश जांगिड़ ने 93% अंक ,
छात्र दिनेश राजपुरोहित ने 91.17% अंक प्राप्त करके विद्यालय का गौरव बढ़ाया | 
आठवीं बोर्ड परीक्षा सत्र 2017-18 में कुल 61 विद्यार्थी बैठे|
 जिसमें से 42 प्रथम श्रेणी, 13 द्वितीय श्रेणी , 3 तृतीय श्रेणी व 2 परीक्षा में नहीं बैठे | 
छात्र प्रेम प्रजापति व सवाइदान ने आठवीं बोर्ड परीक्षा में ए प्लस यानी की 95% से ऊपर अंक प्राप्त करते हुए अपनी प्रतिभा का लोहा मनवाया |
 पांचवीं बोर्ड परीक्षा सत्र 2017-18 में कुल 85 विद्यार्थी बैठे जिसमें से प्रथम श्रेणी 81 विद्यार्थी व 4 द्वितीय श्रेणी से उत्तीर्ण हुए | 
छात्रा गरिमा बारहठ,  छात्र नितीश जांगिड़, मदन जांगिड़ ,मोतीलाल , त्रिलोक सिंह ने ए प्लस यानी 95% से ऊपर अंक प्राप्त करते हुए विद्यालय के परीक्षा परिणाम में चार चांद लगाए | 
शेष सामान्य कक्षाओं का परीक्षा परिणाम भी आशानुकूल व संतोषजनक रहा |
हर वर्ष की भांति इस सत्र भी विद्यालय के 2 विद्यार्थी छात्र मदन जांगिड़ व छात्रा मनीषा जांगिड़ का कक्षा 6 हेतु नवोदय में चयन हुआ |
विद्यार्थी जीवन में पढ़ना जितना जरूरी है उतना ही पढ़ाई के साथ -साथ खेलना भी आवश्यक है |विद्यालय द्वारा समय-समय पर खेलकूद प्रतियोगिताओं  आयोजन के साथ भाग भी लिया जाता हैं| 
सत्र 2017-18 में जिला स्तरीय व राज्य स्तरीय प्रतियोगिताओं में विद्यार्थियों ने श्रेष्ठ प्रदर्शन किया , कुश्ती, क्रिकेट, जिम्नास्टिक हाकी आदि खेलों में विद्यालय के खिलाड़ियों ने अपनी प्रतिभा का प्रदर्शन किया | 
कुश्ती प्रतियोगिता में छात्र सवाई सिंह उंडू ने 110 किलोग्राम में राज्य स्तर पर दूसरा स्थान प्राप्त करते हुए अपनी प्रतिभा का लोहा मनवाया | 
छात्र गिरधर सिंह ने 74 kg में जिले में प्रथम स्थान, 
 छात्र देवेंद्र परमार ने 125 Kg में जिले में प्रथम स्थान प्राप्त करके गांव और जिले का नाम रोशन किया | 
 छात्र दिग्विजय सिंह ने राज्य स्तरीय क्रिकेट प्रतियोगिता में खेल कर विद्यालय का गौरव बढ़ाया | 
 छात्र विक्रम दान ने जिमनास्टिक में  व छात्र गिरिराज गर्ग ने राज्य स्तर पर हॉकी प्रतियोगिता में भाग लिया | 
 शैक्षणिक व खेलकूद गतिविधियों के पश्चात विद्यार्थियों ने सांस्कृतिक गतिविधियों में भी बढ़-चढ़कर हिस्सा लिया जिसमें वृक्षारोपण,  रक्षाबंधन , दीपोत्सव , जागो मतदान,   श्री क्षत्रिय युवक संघ स्थापना दिवस ,
पूज्य श्री तन सिंह जी जयंती दिवस, 
 नव वर्ष दिवस , गणतंत्र दिवस , स्वतंत्रता दिवस , सामान्य ज्ञान प्रतियोगिता , स्वामी विवेकानंद जयंती,  मेरी बेटी मेरा अभिमान , स्काउटिंग गतिविधियां , योगा , प्राणायाम , मेहंदी व रंगोली प्रतियोगिता , पोलीथीन हटाओ अभियान , शिक्षक दिवस , दुर्गादास जयंती , विज्ञान दिवस , कृष्ण जन्मोत्सव , सड़क सुरक्षा रैली आदि के साथ साथ विभिन्न कार्यक्रमों का आयोजन किया गया जिसमें विद्यार्थियों ने बढ़ चढ़कर हिस्सा लिया | 
 विद्यालय के विकास के लिए उसका आर्थिक पक्ष भी मजबूत होना चाहिए इसके लिए विद्यार्थियों से चार किस्तों में कक्षा वार शिक्षण शुल्क लिया जाता है,  प्राप्त शिक्षण शुल्क से विद्यालय के तमाम खर्चों को वाहन किया जाता है | 
विद्यार्थियों की बेहतर निगरानी व सुरक्षा के लिए पूरे विद्यालय में सीसीटीवी लगाए हुए हैं | 
 इतना सब कुछ होने के बावजूद भी वर्तमान में विद्यालय व्यवस्था को और मजबूती देने के लिए 1.विद्यार्थियों के बैठने के लिए फर्नीचर , 
2. कक्षा कक्ष में छत पंखे 
3 खेलकूद सामग्री 
4 सांस्कृतिक कार्यक्रमों के आयोजन के लिए रंगमंच 
5. विद्यालय की सुरक्षा हेतु चारदीवारी की महती आवश्यकता है | 
आशा करता हूं मां मातेश्वरी से आप पधारे हुए अतिथिगण व भामाशाहों से कि आप इस व्यवस्था की ओर ध्यान देंगे और समय रहते हुए विद्यालय इन व्यवस्थाओं को भी पूरे करने का हर संभव प्रयास करेगा ऐसा आपको विश्वास दिलाता हूं | 
जय हिंद - जय भारत


Our School Features

No School Features to show.


Our School Highlights

No School Photos to show.


Our School Statics

Enrolled Boys

Enrolled Girls

Working Staff


Our Staff