शिक्षक उस कुम्हार की भाति होता है जो विद्यार्थी रुपी घड़े को बनाने के लिए बाहरी हाथ से हल्का चोट तो देता है लेकिन घड़े के अंदर यानी हमारे आत्मा को सहारा भी देता है

धन को जेब तक ही रखें उसे हृदय में जगह न दें। जब धन को ह्रदय में जगह दी जाती है तो सुख शांति के स्थान पर लालच, भेदभाव और बुराइयों का जन्म होता है।

 

No School Features to show.

School Statics

Enrolled Boys
Enrolled Girls
Working Staff
Working Classrooms

Latest News/Events

Our Team

ASHOK KUMAR KILANIYA

ASHOK KUMAR KILANIYA

SENIOR TEACHER

8118806796

DEEPENDRA SINGH SHEKHAWAT

DEEPENDRA SINGH SHEKHAWAT

Lecturer HISTORY

9214550235

Contact With Us